:पढ़ने का तरीक़ा: शब्द (वज़्न) सभी अर्थ शंका(22) संशय, संदेह, शक ; भय, अंदेशा, खटका। शंख(2) समुद्र में पैदा होने वाला एक जंतु का कड़ा और सफेद खोल ; दस खर्ब अथवा एक लाख करोड़ की संख्या। शकुन(12) विशिष्ट पशु-पक्षी, …

आगे पढ़ें...

:पढ़ने का तरीक़ा: शब्द (वज़्न) सभी अर्थ संकट (12) विपत्ति, मुसीबत, आफत, आपत्ति। संकलन(112) एकत्र करने की क्रिया, संग्रह करना; ऐसी साहित्यिक कृति जिसमें अनेक ग्रंथों या स्थानों से बहुत-सी रचनाएं इकट्ठी करके रखी गई हों। संकल्प(121) दृढ निश्चय, इरादा …

आगे पढ़ें...

वंश(21) जीव या प्राणी की संतान परम्परा, कुल, खानदान। वंशज(12) वंश विशेष में उत्पन्न संतान। वंशावली(1212) किसी वंश में उत्पन्न पुरुषों की पूर्वोंत्तर क्रम-सूची। वकालत(122) वकील का काम या पेशा ; अन्य व्यक्ति द्वारा किसी के पक्ष का किया जाने …

आगे पढ़ें...

भंवर(12) जलावर्त। भक्ति(21) किसी के प्रति होने वाली निष्ठा, स्नेह, विश्वास या श्रद्धा। भगवान(221) परमेश्वर ; पूज्य, आदरणीय और महिमा शाली। भड़काना(222) आग को तेज करना ; उत्तेजित या क्रुद्ध करना। भड़कीला(222) जिसमें ख़ूब चमक-दमक हो। भद्र(21) शिष्ट, सभ्य, सुशिक्षित। …

आगे पढ़ें...

:पढ़ने का तरीक़ा: शब्द (वज़्न) सभी अर्थ न’अश (12)= ताबूत, शव, अर्थी न’ईम (121)= आनन्द, सुलभता, शान्ति ना (2)= (नकारत्मक) नहीं, न नाआश्ना (222)= अजनबी, अपरिचित नाइत्तिफ़ाक़ी (22122)= असहमति, मतभेद नाइन्साफ़ी (2222)= अन्याय नाइब (22)= सहायक, प्रतिनिधि, उपअधिकारी नाओ (22)= …

आगे पढ़ें...

दाख़िल (22)= प्रेवश करना दाद (21)= न्याय, बदला, दुहाई, प्रशंसा दार (21)= फांसी का तख्ता, लकड़ी दार(उपसर्ग) (21)= के साथ, जुड़ा हुआ दार (21)= घर, देश दारा (22)= अधिकारी, राजा, अधिपति दारू (22)= शराब, दवाई, उपचार दास्तां (212)= कहानी, कथा, …

आगे पढ़ें...

:पढ़ने का तरीक़ा: शब्द (वज़्न) सभी अर्थ ताब (21)= ताप, शक्ति, धीरज, क्रोध ताबिश (22)= ताप, वैभव, शोक, दु:ख तासीर (221)= प्रभाव, छाप ताज (21)= मुकुट तारीख़ (221)= तिथि, इतिहास वर्णक्रम से लिखा हुआ तारीक (221)= अन्धेरा, धुंधला ताज़ा (22)= …

आगे पढ़ें...

:पढ़ने का तरीक़ा: शब्द (वज़्न) सभी अर्थ ठिकाना (122)= घर, स्थान, लक्ष्य, सीमा ठोकर (22)= स्र्कावट, खुराघात, अटक के लुढ़कना ठंड (21)= शीत, शीतल ठहर (12)= रुकना

आगे पढ़ें...

“ग” और “ग़”

:पढ़ने का तरीक़ा: शब्द (वज़्न) सभी अर्थ ग़ज़ीदा (122)= डंक लग हुआ, काट खाया हुआ गुज़र (12)= जाना, एक रास्ता, एक जीवन गुज़ारा (122)= जीविका, जीवन निर्वाह, रास्ता, घर गुज़ारिश (122)= अनुनय, विनय, प्रार्थना, वर्णन गुज़ीदा (122)= चुना हुआ, निर्वाचित …

“ग” और “ग़” आगे पढ़ें...